अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत मामले की जांच के लिए मुंबई पहुंची केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) की टीम ने जांच शुरू कर दी है। इस सिलसिले में सीबीआई की एक टीम बांद्रा पुलिस स्टेशन पहुंची और डीसीपी जोन-9 अभिषेक त्रिमुखे से केस डायरी और जरूरी दस्‍तावेज हासिल किए। इसके अलावा सीबीआई की दूसरी टीम केस से जुड़े एक अज्ञात व्यक्ति से गेस्ट हाउस में पूछताछ कर रही है। माना जा रहा है कि सीबीआई ब्रंदा में सुशांत के घर पर क्राइम सीन को भी रीक्रियेट करेगी। एक दिन पहले ही सुप्रीम कोर्ट ने मामले की जांच सीबीआइ को सौंपने का निर्देश दिया था।

  • सुशांत सिंह राजपूत मामले में डीसीपी जोन-9 अभिषेक त्रिमुखे से केस डायरी लेकर सीबीआई की टीम बांद्रा पुलिस स्टेशन रवाना हो गई है। सीबीआई टीम ने वहां से केस डायरी और जरूरी दस्‍तावेज लिए हैं।
    मुंबई में केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) की टीम सुशांत सिंह राजपूत मामले की आगे की जांच के लिए बांद्रा पुलिस स्टेशन पहुंची। यहां वह जांच से जुड़े अधिकारियों से बात करेगी।
  • सुशांत सिंह राजपूत मामले में मुंबई पहुंची सीबीआई की टीम पूछताछ के लिए केस से जुड़े एक अज्ञात व्यक्ति को गेस्ट हाउस लेकर जा रही है।
  • सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच के लिए मुंबई पहुंची सीबीआई की टीम इस वक्त सांताक्रूज में स्थित एयरफोर्स ट्रांजिट फैसिलिटी में बैठक कर रही है।
    क्वारंटाइन नहीं होगी सीबीआइ टीम

इस बीच, बीएमसी ने कहा है कि सुशांत मामले की जांच के लिए मुंबई पहुंची सीबीआइ टीम को क्वारंटाइन नहीं किया जाएगा। बीएमसी के एक अधिकारी ने बताया कि केंद्रीय एजेंसी ने जांच अधिकारियों को क्वारंटाइन के नियमों से छूट दिए जाने का अनुरोध किया था। इसलिए उन्हें इससे छूट दी जा रही है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले बीएमसी ने आइपीएस अधिकारी विनय तिवारी को क्वारंटाइन कर दिया था। महाराष्ट्र के मंत्री विजय वाडेट्टिवार ने कहा है कि सीबीआइ के अधिकारी मुंबई में ठहरेंगे और कई लोगों से मिलेंगे। इसलिए एहतियाती उपाय उठाते हुए उनकी कोविड-19 जांच की जानी चाहिए।

Copy

महाराष्ट्र के गृह मंत्री और परमबीर सिंह की बैठक

इससे पहले मुंबई के पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने सुशांत मामले को लेकर महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख के साथ एक बैठक में भाग लिया। देशमुख ने बुधवार को कहा था कि महाराष्ट्र सरकार इस मामले में सीबीआइ को हर तरह की मदद उपलब्ध कराएगी।

जांच से जुड़े दस्तावेज सीबीआई को सौंपे पुलिस

19 अगस्त को सर्वोच्च न्यायालय ने पटना में दर्ज एफआइआर को सही ठहराते हुए केंद्रीय एजेंसी को जांच के लिए कहा था। न्यायमूर्ति ऋषिकेश राय ने फैसला सुनाते हुए यह भी कहा था कि बिहार सरकार सीबीआइ से जांच कराने की सिफारिश करने में सक्षम है। अदालत ने मुंबई पुलिस से अब तक एकत्रित सभी सुबूत भी सीबीआइ को सौंप देने के लिए कहा था।

ईडी ने रूमी जाफरी का बयान दर्ज किया

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार को सुशांत सिंह राजपूत से जुड़े मनी लांड्रिंग मामले की जांच के सिलसिले में फिल्म निर्माता रूमी जाफरी का बयान दर्ज किया। सूत्रों के अनुसार, उनका बयान सुशांत के साथ फिल्म निर्देशित करने की उनकी कथित योजनाओं और आगामी परियोजना से जुड़े वित्तीय मामलों के संबंध में दर्ज किया गया। इससे पहले जाफरी से मुंबई पुलिस ने भी पूछताछ की थी। ईडी ने इस मामले में अब तक रिया चक्रवर्ती, उनके भाई शोविक, पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती समेत कई अन्य लोगों का बयान दर्ज किया है।

सीबीआइ ने विशेष अदालत में सौंपी प्राथमिकी की कॉपी

सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में सीबीआइ ने आरोपितों के खिलाफ ट्रायल चलाने के लिए प्राथमिकी की छायाप्रति डाक से सीबीआइ की विशेष अदालत में भेज दी है। सीबीआइ सूत्रों के अनुसार, अदालत को यह प्रति प्राप्त भी हो गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here