PATNA : सीएम नीतीश कुमार ने आज पश्चिम चंपारण के बाढ़ ग्रस्त इलाकों का हवाई मार्ग से जाएजा लिया. सीएम ने भितहा चंद्रपुर समेत पीपी तटबंध का निरीक्षण किया. इसके बाद वह वाल्मिकीनगर पहुंचे है. इससे पहले से सीएम को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया है. सीएम नीतीश ने इंडो नेपाल सीमा पर स्थिति वाल्मीकिगर गंडक बराज का निरीक्षण किया. इस दौरान कोरोना संकट को लेकर प्रशासन ने मीडिया कवरेज पर रोक लगा रखी है. मुख्यमंत्री दो दिन पहले दरभंगा में बाढ़ राहत कैंप का दौरा कर चुके हैं और अब वह वाल्मीकि नगर पहुंच रहे हैं. मुख्यमंत्री बाढ़ राहत कैंप में चलाए जा रहे सामुदायिक रसोई का भी जायजा लेंगे साथ ही साथ कैंप में रह रहे लोगों को कोरोना वायरस आने के लिए क्या इंतजाम किए गए हैं इसकी भी समीक्षा करेंगे. वहीं सीएम के हवाई सर्वेक्षण से बाढ़ पीड़ित में एक नई आस जगी है. गत दिनों गंडक नदी के उफान के कारण दियारा के सैकड़ों परिवार बेघर हो गए थे. कई परिवार आज भी तटबन्ध पर रात गुजारने को मजबूर हैं. वहीं आसपास के गांवों के लोग तटबन्ध के पास हेलीकॉप्टर को मंडराता देख भौंचक हो गए . एकाएक सूचना मिली कि सूबे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का दौरा वाल्मीकिनगर हो रहा है. जिसमें जाने के क्रम में चंद्रपुर तटबन्ध के कटाव स्थल का निरीक्षण हेलीकॉप्टर के द्वारा किया जा रहा है। ताकि वहां की हालात की जानकारी मुख्यमंत्री द्वारा लिया जा सके. वहीं सीएम का हेलीकॉप्टर दियारा क्षेत्र के बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में भी लगभग 10 मिनट तक मंडराता रहा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here