बांग्लादेश के रक्षा सचिव अब्दुल्ला अल मोहसिन चौधरी की कोरोना वायरस से मौत
बांग्लादेश के रक्षा सचिव अब्दुल्ला अल मोहसिन चौधरी की सोमवार को यहां एक अस्पताल में कोरोना वायरस के कारण मौत हो गई। सरकार ने इस खबर की पुष्टि की है। अब्दुल्ला अल मोहसिन चौधरी का सोमवार की सुबह 9.30 बजे ढाका के कंबाइंड मिलिट्री हॉस्पिटल (CMH) में इलाज के दौरान निधन हो गया। bdnews24 ने रक्षा मंत्रालय की अतिरिक्त सचिव सेलिना हक के हवाले से ये बताया है।

सचिवालय के एक प्रशासनिक अधिकारी भासानी मिर्जा ने द डेली स्टार अखबार को बताया कि कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद चौधरी को 29 मई को सीएमएच में भर्ती कराया गया था और 6 जून को गहन चिकित्सा इकाई(आइसीयू) में रखा गया था, जब उनकी हालत बिगड़ गई।

Copy


उन्होंने कहा कि उनकी हालत बिगड़ने पर उन्हें 18 जून को वेंटिलेशन सपोर्ट पर रखा गया था। अब्दुल्ला अल मोहसिन चौधरी जनवरी में देश के रक्षा सचिव बने और 14 जून को सरकार ने उन्हें रक्षा मंत्रालय के वरिष्ठ सचिव पद पर पदोन्नत किया।


बांग्लादेश में कोरोना वायरस के मामलों की बात की जाए तो सोमवार की सुबह तक बांग्लादेश में कोरोना वायरस के 1,37,787 मामले सामने आ चुके हैं। यहां कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 1,738 तक पहुंच गया है। दक्षिण एशिया में बांग्लादेश सबसे बुरी तरह प्रभावित देशों में शामिल है।

बांग्लादेश के विजन 2041 को साकार करने में भारत निभाएगा महत्‍वपूर्ण भूमिका

भारत बांग्लादेश के विकास एजेंडे को लागू करने में सहयोग के लिए प्रतिबद्ध है। भारत के इस विकासात्मक साझेदारी की मानसिकता का बांग्लादेश भी सम्मान करता है। इन भावों ने दोनों के द्विपक्षीय संबंधों को मजबूती प्रदान की है। वर्ष 2008 बांग्लादेश के सामाजिक आर्थिक नियोजन के इतिहास में एक महत्वपूर्ण वर्ष था, जब बांग्लादेश ने अपने विजन 2021 की उद्घोषणा की थी।
पड़ोसी देश के विजन 2041 की सुगम करेगा राह

इसके तहत बांग्लादेश ने 2021 तक मध्यम आय अर्थव्यवस्था बनने का लक्ष्य निर्धारित किया था। इसके उपरांत बांग्लादेश ने विजन 2041 अपनाया जिसके तहत 2041 तक एक विकसित अर्थव्यवस्था बनने का लक्ष्य निर्धारित किया। भारत ने इसे मूर्तमान बनाने में बांग्लादेश को सहयोग करने की बात की है। स्पष्ट है कि भारत बांग्लादेश के साथ विकासात्मक साझेदारी को अपने द्विपक्षीय संबंधों को दिशा देने का प्रमुख आधार मानता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here