• प्रियांशु

देश भर में फैले कोरोना वायरस के मद्दे नज़र हुए लॉक डाउन के दौरान भारी मात्रा में लोगों का पलायन देखा गया जिसको देखते हुए बिहार सरकार ने अपने बॉर्डर को सील कर दिया है और अब बाहर से आने वाले लोगों को बॉर्डर पर बने राहत कैम्पों में रखने की व्यवस्था की गई है.

बॉर्डर पर की गई है इलाज़ की व्यवस्था

Copy

नीतीश सरकार का संदेश साफ है कि किसी भी व्यक्ति की बिना जांच किए बिहार के भीतरी सीमाओं में आने की इजाजत नहीं है. जो लोग बिहार बॉर्डर पहुंच गए हैं या जो रास्ते में हैं उनके लिए बॉर्डर पर ही रहने और खाने-पीने की व्यवस्था है. बहरहाल उनका इलाज भी वहीं होगा.

तेज़ी से पांव फ़ैला रहा है संक्रमण

आपको बता दें कि देश में कोरोना से मरने वाले लोगो की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है. रविवार को स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक संक्रमित मरीजों की संख्या अब 1000 के क़रीब पहुंच चुकी है, जबकि मरने वाले लोगो की संख्या भी अब 20 हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here