PATNA : भागलपुर में केस नहीं उठाया तो दबंगों ने घर से खींचकर पहले रिक्शा चालक को पोल से उसे बांधकर पीटा और फिर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। वारदात बाथ थाना क्षेत्र की कुमैठा पंचायत के रविदास टोला में बीते शनिवार देर रात की है। जहां रिक्शा चालक उचित दास (50 वर्ष) की हत्या कर दी गई। वारदात को अंजाम देने के बाद हत्यारे अपने-अपने घरों में ताला लगाकर भाग निकले। घटना के समय मृतक घर में अकेला था। पत्नी बच्चों के साथ शुक्रवार को ही अपने मायके मुंगेर जिले के कल्याणपुर गांव गई थी। रविवार दोपहर घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामले की तहकीकात कर शव को थाने ले गई। पुलिस के जाने के 10 मिनट बाद ही मृतक की पत्नी, बच्चे व भाई घर पहुंचे।

थानाध्यक्ष मनीष कुमार ने बताया कि पुरानी रंजिश में घटना को अंजाम दिया गया है। मृतक की पत्नी ललिता देवी ने गांव के ही 11 लोगों को नामजद किया है। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। थानाध्यक्ष ने दावा किया कि जल्द ही आरोपी गिरफ्तार होंगे। मृतक की पत्नी ललिता देवी ने बताया कि मार्च 2017 में पड़ोसी मुन्नी देवी ने हमारी दो नाबालिग पुत्री को काम दिलाने के बहाने बहला-फुसलाकर दिल्ली लेकर चली गई थी। इस मामले में पति ने केस दर्ज कराया था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। मुन्नी जब जेल से छुटकर आई तो उसके चारों गोतिया मिलकर पति और मेरे साथ मारपीट के बाद घर में आग लगा दी थी। मामले में आरोपी दिवाकर दास जेल गया था। जेल से जमानत पर बाहर आने के बाद सभी केस उठाने का दबाव बना रहे थे।

Copy

घटना को अंजाम देने के बाद आरोपियों में से किसी एक ने पुलिस को फोन कर बताया कि रिक्शा चालक नशे की हालत में हमलोगों को गाली-गलौज कर रहा है। उसी रात पुलिस पहुंची और रिक्शा चालक को घर के बाहर से आवाज देकर बुलाया। काफी देर तक वह बाहर नहीं निकका तो पुलिस लौट गई। इस बात का खुलासा मृतक की पत्नी ने की। बताया कि रात में मेरे पति के साथ मारपीट की जा रही थी, तो गांव के एक व्यक्ति ने फोन कर इसकी सूचना दी थी। कुछ देर बाद फिर फोन कर बताया गया कि पुलिस भी आई है। पुलिस घर के बाहर से आपके पति को आवाज़ देकर बुलाया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here