PATNA : बिहार विधानसभा चुनाव की सरगर्मियों के बीच एनडीए के दो दलों में मचा रार थमने का नाम नहीं ले रहा है. लोजपा और जेडीयू के बीच तनातनी को लेकर बड़े नेता जो बयान दें लेकिन जमीनी हकीकत किसी से छिपी नहीं है. चिराग पर जेडीयू ने अटैक किया तो लोजपा ने भी जदयू पर करार पलटवार किया है. लोजपा और जदयू के बीच तनातनी अब और तेज हो गई है. लोजपा प्रवक्ता अशरफ़ अंसारी ने जेडीयू पर अटैक करते हुए कहा है कि जेडीयू नेता रोज पीट रहे हैं इसलिए जदयू को अपने नेताओं पर ध्यान देना चाहिए. दरअसल JDU एमएलसी गुलास गौस ने लोजपा चीफ चिराग पासवान पर हमला करते हुए कहा था कि चिराग पासवान राजकुमार ने बने जनता का पत्थर पड़ेगा तब समझ आएगा. चिराग पासवान को लेकर दिए इस बयान के बाद लोजपा तिलमिला गई. जिसके बाद लोजपा प्रवक्ता अशरफ अंसारी ने कहा कि खुद गुलाम गौस दूसरे के कंधों पर बैठे हैं वो क्या बोलेंगे.

गौरतलब है कि लोजपा चीफ चिराग पासवान और सीएम नीतीश के बीच काफी महीनों से कोल्ड वार चल रहा था जो कि अब पूरी तरह खुलकर सतह पर आ गया है.चिराग पासवान नीतीश सरकार की कमियों को गिनाकर अपना इरादा पहले ही क्लीयर कर चुके हैं.चिराग पासवान के पार्टी के नेताओं ने तो यहां तक मांग कर दी है कि लोजपा को जेडीयू के उम्मीदवारों के खिलाफ भी कैंडिडेट खड़ा करना चाहिए. एनडीए में इन दो दलों की बीच रार को लेकर बीजेपी सब कुछ ऑल इज वेल का दावा कर रही है लेकिन सियासी बयानबाजी यह बताती है कि जो दिखाए जाने की कोशिश हो रही है वैसी बात है नहीं. बहरहाल अब देखना यह है कि लोजपा-जदयू के बीच तनातनी का अंत कब और किस समझौते के बाद होता है.

Copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here