बिना मास्क के सार्वजनिक स्थान पर दिखे राष्ट्रपति बोल्सोनारो, जज ने लगाया 400 डॉलर का जुर्माना
दुनियाभर में कोरोनावायरस का कहर बरकरार है, इससे बचाव के लिए सिर्फ चेहरे पर मास्क लगाना और हाथ को सेनिटाइजर और साबून से लगातार धोते रहने की जरूरत है मगर कई देशों में लोग अभी भी इसका पालन नहीं कर रहे हैं। इसमें आम लोगों के साथ कुछ देशों के बड़े नेता और राष्ट्रपति तक शामिल है।

एक आदेश में, न्यायाधीश रेनाटो कोल्हो बोरेली ने राष्ट्रपति को चेतावनी दी कि वह बिना मास्क के कई जगहों पर सार्वजनिक रूप से दिखाई दिए हैं इस वजह से उन पर 400 डॉलर का जुर्माना लगाया जाता है। उनको ये कीमत चुकानी पड़ेगी। न्यायाधीश का आदेश उस समय आया है कि जब कोरोनावायरस ने दुनियाभर में एक करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया है। अपने आदेश में, न्यायाधीश ने लिखा है कि यदि सोशल साइट Google में बोल्सोनारो की तस्वीर खोजी जाए तो वो बिना मास्क के ही दिखाई देती है। वो राजधानी में चारों ओर बिना मास्क के ही घूमते हुए दिखाई देते हैं।

Copy


ब्राजील में हाल ही में ऐसा ही एक मामला सामने आया है। इसमें राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो को सार्वजनिक स्थानों पर बिना मास्क के पहुंचने पर न्यायाधीश ने फटकार लगाई है। न्यायाधीश इस बात को लेकर और भी गुस्से में थे कि जब कुछ समय पहले तक कोरोनावायरस की वजह से ब्राजील एक हॉटस्पाट बना हुआ था उसके बाद भी एक राष्ट्रपति की ओर से सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का इस्तेमाल क्यों नहीं किया जा रहा है।


हालांकि, राजधानी ब्रासीलिया के अधिकारियों ने निवासियों को मास्क पहनने का आदेश दिया है। वो जब भी अपने घर से बाहर होते हैं तो वो मास्क का इस्तेमाल करते हैं। सार्वजनिक जगहों पर वो बिना मास्क के घूमते हुए नहीं दिखते हैं जबकि राष्ट्रपति बोल्सनारो को अक्सर बिना मास्क और अपने चेहरे को ढके हुए ही देखा गया। वो सार्वजनिक जगहों पर बिना मास्क के पहुंच जाते हैं और लोगों से हाथ मिलाते हुए भी दिखते हैं मगर किसी तरह से सावधानी नहीं बरतते हैं। वो न तो मास्क लगाते हैं ना ही सैनिटाइजर का इस्तेमाल करते हुए नजर आते हैं।


अकेले कोरोनावायरस से ब्राजील में 50 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। कुछ दिन पहले भी स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने एक दिन में 1000 से अधिक लोगों की कोरोनावायरस से मौत की सूचना दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here