PATNA : कोरोना काल में नीतीश सरकार के मंत्री ने सरकारी प्रतिबंधों की धज्जियां उड़ा दी. बिहार के जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा ने आज सरकारी नियमों की धज्जियां उड़ा पर मधुबनी में जनसभा कर डाली. जबकि पूरे देश में किसी जमावड़े पर रोक लगी हुई है. दरअसल नीतीश कुमार के बेहद खास मंत्री संजय कुमार झा आज मधुबनी और सुपौल दौरे पर थे. इसी दौरान मधुबनी के मधेपुर के पास वैद्यनाथपुर में उन्होंने कोसी नदी पर तटबंध का शिलान्यास किया. मंत्री जी को आना था लिहाजा उनके विभाग ने पूरी तैयारी कर रखी थी. पूरा तामझाम था. टेंट-पंडाल सब लगाया गया था. वैद्यनाथपुर में मंत्री संजय कुमार झा ने बकायदा जनसभा को संबोधित किया. जेडीयू के एक स्थानीय नेता ने बताया कि उन्हें मैसेज आया था कि मंत्री जी के कार्यक्रम में आदमी को लेकर आना है. लिहाजा स्थानीय स्तर पर लोगों को जुटाकर मंत्री जी की सभा में लाया गया.

बिहार सरकार पूरे सूबे में मास्क पहनने को लेकर अभियान चला रही है. सड़क पर चल रहे लोगों को पकड़ा जा रहा है. जिसने मास्क नहीं लगाया उसके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है. लेकिन मंत्री की जनसभा में बड़े पैमाने पर लोग बगैर मास्क के मौजूद थे. उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई. सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की भी धज्जियां उड़ गयीं. सभा में पुलिस भी मौजूद थी. लेकिन मंत्री जी के रूतबे के सामने पुलिस क्या करती. बिहार सरकार अभी कोरोना को लेकर केंद्र सरकार के दिशा-निर्देश को फॉलो कर रही है. इसके तहत पूरे देश में जनसभा करने पर रोक है. केंद्र सरकार ने 21 सितंबर के बाद 100 लोगों की सभा करने की इजाजत दी है. बिहार सरकार ने बकायदा अधिसूचना जारी कर केंद्र के निर्देश को लागू करने का फैसला लिया है.

Copy

अब सवाल ये है कि क्या नीतीश कुमार अपने मंत्री पर कार्रवाई करेंगे. मंत्री संजय कुमार झा उनके किचन कैबिनेट के मेंबर माने जाते हैं. बिहार में बाढ़ और तटबंध टूटने की घटनाओं को लेकर मंत्री संजय झा के खिलाफ कई गंभीर आरोप लगे थे. लेकिन मुख्यमंत्री ने तमाम आरोपों को खारिज कर दिया. जब उतना गंभीर मामला खारिज हुआ तो फिर लॉकडाउन के नियम तोड़ने पर कार्रवाई होने की उम्मीद कैसे की जा सकती है. आज वैद्यनाथपुर (मधेपुर, मधुबनी) में कोशी के दाएं विस्तारित सिकरहट्टा-मंझारी निम्न बांध का परसौनी से महिषा तक निर्माण कार्य का शिलान्यास किया। इससे क्षेत्र की बड़ी आबादी को अगले साल से बाढ़ से राहत मिलेगी। यहां गर्मी के बावजूद क्षेत्रवासियों का उत्साह चरम पर था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here