PATNA : बिहार में चुनावी सरगर्मी परवान पर है।विपक्ष की तरफ से ‘बिहार में का बा’ के माध्यम से सत्ताधारी बीजेपी-जेडीयू को चोट किया गया है।इसका जवाब भी बीजेपी-जेडीयू की तरफ से दी गई । भाजपा की तरफ से वीडियो जारी कर बताया गया कि ‘बिहार में ई बा’। अब एक बार फिर से बीजेपी ने तेजस्वी यादव के चार साल पुरानी बात का हवाला देते हुए कहा गया कि तेजस्वी ने तो भाजपा की बात मान ली है। बिहार बीजेपी प्रभारी भूपेन्द्र यादव ने तेजस्वी यादव के ट्वीट को आधार बनाकर घेरा।उन्होंने कहा कि, अब तो तेजस्वी भी भाजपा की बात मान लिए कि ‘बिहार में ई बा’! अब तो पूछना बंद करिये कि ‘बिहार में का बा?’!मतलब साफ है बीजेपी ने तेजस्वी की बातों से ही उन्हें घेरा है और कहा है कि जब आप खुद ही स्वीकार कर रहे कि बिहारी होने पर गर्व है तो फिर ‘बिहार में का बा’ जैसे सवाल क्यों पूछ रहे?

दरअसल तेजस्वी यादव ने 2016 में ही एक ट्वीट किया था और बिहार की नकारात्मक छवि गढ़ने वालों को करारा जवाब दिया था।तेजस्वी ने अपने ट्वीट में लिखा था कि गर्व से कहो हम बिहारी हैं। हमे गर्व है बिहारी होने पर, दुनिया के सामने बिहार की नकारात्मक छवि प्रस्तुत करने वाले को शर्म आनी चाहिए। तेजस्वी ने अखबार का कतरन भई अपने ट्वीट में इस्तेमाल किया था जिसमें खबर थी, बिहार ने 10 सालों में दिये 125 आईएएस अफसर।

Copy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here