PATNA : महागठबंधन बेरोजगारी को राज्य के विधानसभा चुनाव में मुख्य मुद्दा बनाने में जुटा है। दोनों मुख्य दल राजद और कांग्रेस के नेता इस मुद्दे पर अपने-अपने आंकड़े पेश कर रहे हैं। सत्ता पक्ष को घेरने के लिए ताबड़तोड़ हमला कर रहे हैं। राजद नेता तेजस्वी यादव का भाषण इसी मुद्दे के इर्द-गिर्द घुमता है तो जिला स्तरीय कांग्रेस वर्चुअल क्रांति महासम्मेलनों में चाहे राष्ट्रीय स्तरीय नेता हो या राज्य स्तरीय, सब बेरोजगारी पर सरकार को जरूर लताड़ रहे हैं। आगामी बिहार विधान सभा चुनाव के लिये कांग्रेस पार्टी के घोषणा पत्र को देश का सबसे युवा घोषणा पत्र बनाने की कवायद चल रही है। युवाओं को विश्वास दिलाया जाएगा कि कि कांग्रेस का हाथ युवाओं के साथ है। यह भी बताना है कि कांग्रेस सिर्फ सरकारी रिक्तियां भरना ही नहीं बल्कि रोज़गार के नए विकल्प भी तलाशेगी। राजद के अनुसार उसके द्वारा बेरोजगारों के लिये बनाए गए बेरोजगारी हटाओ पोर्टल पर 9 दिन में ही करीब 5 लाख युवाओं ने रजिस्ट्रेशन करा लिया है। राजद नेता तेजस्वी यादव ने सत्ता में आने पर इन युवाओं को नौकरी देने का वादा किया है। तेजस्वी कहते हैं कि बिहार में बेरोजगारी दर सबसे अधिक है। 46.6 फीसदी बेरोजगारी दर है। 18 से 35 वर्ष की आयु सीमा में बेरोजगारी दर और अधिक है। यही कारण है कि राजद के चुनावी एजेंडे में बेरोजगारी टॉप पर है।

रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने दावा किया है कि राज्य में अगली सरकार महागठबंधन की बनेगी। एनडीए सरकार को बदलने के लिए बिहार की जनता तैयार बैठी है। मंगलवार को भोजपुर के कई लोगों को रालोसपा की सदस्यता दिलाने के बाद बात कर रहे थे। कुशवाहा ने कहा कि राज्य में शिक्षा, स्वास्थ्य, सिंचाई की स्थिति बदहाल है। सरकारी स्कूल में शिक्षा व्यवस्था जब तक नहीं सुधरेगी, तब तक गरीबों के बच्चों को अच्छी शिक्षा नहीं मिलेगी। अरुण सिंह, अजीत कुमार उपाध्याय, महेंद्र सिंह, मुकेश ओझा, कमल सिंह, संजीत सिंह, दारा सिंह गोपाल सिंह, बबलू सिंह, प्रमोद कुशवाहा आदि शामिल हुए। मौके पर प्रदेश अध्यक्ष भूदेव चौधरी मौजूद थे।

Copy

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कांग्रेस वर्चुअल क्रांति महासम्मेलन में सारण तथा वैशाली जिले के कार्यकर्ताओं से कहा कि केंद्र ने अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया है। किसानों की हितैषी न्यूनतम समर्थन मूल्य को भी अध्यादेश लाकर खत्म करना चाहती है। पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने वैश्विक मंदी के बीच भी भारत की अर्थव्यवस्था को कमजोर नहीं होने दिया था। विधायक सह बिहार स्क्रीनिंग कमिटी के सदस्य काजी निजामुद्दीन ने कहा कि हर कदम पर केंद्र और राज्य के नेता बिहार के लोगों को छल रहे हैं। बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष डाॅ. मदन मोहन झा ने कहा कि 2 करोड़ नौकरी देने का वादा करने वाले नौकरी छिन रहे हैं। बिहार प्रभारी अजय कपूर समेत कई अन्य कांग्रेस नेता महासम्मेलन से जुड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here