PATNA : महागठबंधन में हम पार्टी के नेता जीतन राम मांझी व रालोसपा के उपेंद्र कुशवाहा की बात नहीं बनती दिख रही है़. बीते दो माह में दो बार दिल्ली का दौरा करने के बाद भी अब तक इनकी रणनीति सफल नहीं हो पायी है़. दूसरी तरफ कांग्रेस के शक्ति सिंह गोहिल की ओर से मांझी के बात करने के बाद एक सप्ताह की समय- सीमा भी समाप्त हो गयी है. हम के प्रदेश अध्यक्ष बीएल बैस्यंत्री ने बताया कि सोमवार को मांझी के साथ उनके आवास पर मुलाकात हुई थी़. इसके बाद मांझी अपने पैतृक आवास चले गये़. फिलहाल अभी पार्टी की ओर से कोई फैसला नहीं किया जा सका है़. मांझी को अभी कांग्रेस की ओर से पहल करने का इंतजार है़.

वहीं, रालोसपा के अभिषेक झा ने बताया कि उपेंद्र कुशवाहा दिल्ली से लौट चुके हैं. फिलहाल कोई नया डेवलपमेंट नहीं हो पाया है़ पार्टी अपने पुराने मुद्दे पर कायम है़. महागठबंधन में सीटों के बंटवारे को लेकर फैसला नहीं हुआ है़. वहीं बिहार विधानसभा आम चुनाव को लेकर भारत निर्वाचन आयोग ने सोमवार को बिहार के सभी जिलों के जिलाधिकारियों व आरक्षी अधीक्षकों के साथ रिटर्निंग ऑफिसरों को चुनाव संबंधी प्रशिक्षण दिया. प्रशिक्षण में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एचआर श्रीनिवास सहित सीइओ कार्यालय के वरीय पदाधिकारी भी उपस्थित थे. उपमुख्य निर्वाचन पदाधिकारी बैजूनाथ कुमार सिंह ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग की ओर से उपचुनाव आयुक्त चंद्रभूषण कुमार और सुदीप जैन ने प्रशिक्षण प्रशिक्षण दिया.

Copy

प्रशिक्षण के दौरान बिहार के पदाधिकारियों को बताया गया कि कोरोना को देखते हुए नयी इवीएम का इस्तेमाल कैसे करना है. प्रत्याशियों के नामांकन में किन बातों का ध्यान रखा जाना है. मतदाता सूची की तैयारी और बूथों के गठन पर किन बातों का ध्यान रखा जाना है. आयोग द्वारा विधानसभा चुनाव में खासकर एप को लेकर विशेष प्रशिक्षण दिया गया. बताया गया कि चुनाव को लेकर आयोग द्वारा कई एप तैयार किये गये हैं, जिनकी भूमिका चुनाव में अहम हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here