PATNA : कोरोना वायरस के कारण दुनिया के करीब सभी देशों की आर्थिक प्रगति रुक सी गई है. लाखों लोग कोरोना के कारण बेरोजगार हो गये हैं. ऐसे में भारत में रोजगार खो चुके लोगों और रोजगार की तलाश कर रहे युवाओं के लिए एक अच्छी खबर है. अमेरिका की आईटी कंपनी सेल्सफोर्स की भारत में आने वाले दिनों में 5.48 लाख लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार देने की योजना है.
अमेरिका की आईटी कंपनी सेल्सफोर्स
5.48 लाख लोगों को देगी प्रत्यक्ष रोजगार
परोक्ष रूप से 13 लाख लोगों को मिलेगा काम
अर्थव्यवस्था में अरबों डॉलर का योगदान करेगी अमेरिकी कंपनी
ढाई लाख छात्रों को एक से दो साल में मिलेगा प्रशिक्षण
भारत में दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की क्षमता

कंपनी के अनुसार भारत में जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) के मामले में दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की क्षमता है. सेल्सफोर्स के मुख्य डेटा अधिकारी वाला अफशर ने रेज सम्मेलन में कहा कि परोक्ष रूप से कंपनी भारत में 13 लाख रोजगार सृजित करेगी. उन्होंने कहा कि उनकी कंपनी भारत की अर्थव्यवस्था में अरबों डॉलर का योगदान करने जा रहे हैं. ‘‘हम अपने ग्राहकों और भागीदारों के साथ परोक्ष रूप से 13 लाख रोजगार सृजित करने जा रहे हैं. जबकि प्रत्यक्ष रूप से हम 5,48,000 लोगों को रोजगार देंगे.” सेल्सफोर्स का बाजार पूंजीकरण लगभग 240 अरब डॉलर अनुमानित है. अफशर ने सम्मेलन में कहा, ‘‘अगले एक दो साल में हम 2,50,000 छात्रों को प्रशिक्षण देने को लेकर प्रतिबद्ध हैं.

Copy

शिक्षा डिजिटल अंतर पाटने के लिहाज से महत्वपूर्ण है.” उन्होंने कहा, ‘‘भारत में हर तीन सेकेंड में एक नया व्यक्ति इंटरनेट से जुड़ता है. इसका मतलब है कि इंटरनेट से जुड़ने वालों का आंकड़ा आज 60 करोड़ से अगले पांच साल में संभवत: एक अरब से अधिक पहुंच जाएगा. इसका यह भी मतलब है कि भारत जीडीपी के लिहाज से दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश होगा. केवल चीन से पीछे होगा जबकि अमेरिका से आगे होगा.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here